हबीब पेंटर... करके काया की कोतवाली....

There seems to be an error with the player !

बंदे को खुदा क्या कहना...

There seems to be an error with the player !

मोरे पिछवरवां चंदन गाछे

There seems to be an error with the player !

अभी और सुनना चाहते हैं तो कुछ अन्य गानों के लिए क्लिक करें.. सुनें-गुनगुनाएं

Guest » 3am - Sep 26, 2011
Unknown
Rating: 0.0 (0 Votes)

Video Comments

Comments (3)Add Comment
0
ये है कनपुरिया पुलिस और पत्रकार
written by pradeep srivastava, September 27, 2011
ये है कनपुरिया पुलिस और पत्रकार....वाह अरविन्द जी क्या खुलासा किया है आपने ....बधाई के पात्र है आप....
0
वाह रे सिस्टम ..
written by प्रवीण शुक्ल , September 27, 2011
खबरों का इतना अकाल भी नहीं कि आज के काबिल पत्रकारों को खबरे बनाने के लिए पहले पुलिस को शराब पिलानी पड़े , फिर झगडा करने का नाटक कर खबर चलाई जाए ! बेचारे पुलिस वाले फालतू में निपट गए ..

अरविन्द जी इनका पर्दाफाश करने के लिए बधाई ...
0
rahul
written by rahul, September 28, 2011
अरे ......श्रीमान पत्रकार जी पुलिस से कितना मिला है .......इस एक तरफ़ा स्टोरी प्लांट करने वास्ते .....दुसरे टीवी पत्रकार को उसी के पद पर हटा कर रखवाने के साजिस जायादा नजर आ रही है ...आप प्रिंट के मालूम पड़ते एलेट्रानिक के लोगो को तो मौके पर मौजूद रह कर ही काम करना परता है कुछ भी विडियो में दिख सकता है ....लेकिन लगता है की आप पुलिस से जायदा प्रभावित है इनके सहबो से कितना मिला है ......?आप पुलिस फॉर मिडिया क्यों नहीं खोल लेते ....राहुल

Write comment

busy